प्रधानमंत्री के विज्ञापनों के मुद्दे पर चुनाव आयोग से मिला कांग्रेस प्रतिनिधिमंडल
| Agency - 16 Mar 2019

नई दिल्ली,  कांग्रेस का प्रतिनिधिमंडल शुक्रवार को पेट्रोल पंपों, एयरपोर्टों और रेलवे स्टेशनों पर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी से जुड़े विज्ञापनों को हटाए जाने के मुद्दे पर चुनाव आयोग से मिला। चुनाव आयोग से मुलाकात के बाद कांग्रेस नेता आरपीएन सिंह ने पत्रकारों को संबोधित करते हुए कहा कि कांग्रेस पार्टी ने 10 मार्च को एक रिप्रेंजेटशन चुनाव आयोग को दिया था कि आदर्श चुनाव सहिंता के लागू होने के बावजूद सरकार द्वारा लगाए गए प्रधानमंत्री के विज्ञापन पेट्रोल पंपों पर, एयरपोर्टों पर, रेलवे स्टेशनों पर लगे हुए हैं। उन्होंने बताया कि आयोग ने आश्वसन दिया है कि पेट्रोल पंपों, एयरपोर्टों और रेलवे स्टेशनों पर लगे प्रधानमंत्री के विज्ञापनों को हटाने का काम किया जा रहा है। चुनाव आयोग ने रिपोर्ट मांगी है, कितने ऐसे और विज्ञापन अभी तक लगे हुए हैं। इसके अलावा, कांग्रेस प्रतिनिधिमंडल ने कहा कि कांग्रेस अध्यक्ष और बाकी नेताओं को लेकर भाजपा नेताओं द्वारा जिस तरह के आपत्तिजनक बयान दिए जा रहे हैं, उस पर भी पार्टी ने अपना विरोध दर्ज करवाते हुए कार्यवाही की मांग की है। चुनाव आयोग ने इस पर कार्रवाई का आश्वसन दिया है। कुछ भाजपा नेताओं द्वारा सेना पर की जा रही पोस्टर राजनीति पर पूछे गए प्रश्न के उत्तर में आरपीएन सिंह ने कहा कि चुनाव आयोग ने उस पर नोटिफिकेशन जारी किया है। हमने कहा है कि लोकतंत्र में सारी पार्टियों के लिए चुनाव आयोग का पहला कर्तव्य है कि सबको एक समान मौका मिलना चाहिए। चुनाव आयोग ने कहा कि हमने इस तरह के सारे नोटिस निकाल रखे हैं और इन नोटिस के खिलाफ जो भी जाता है उस पर चुनाव आयोग द्वारा सख्त कार्यवाही की जाएगी। सर्वोच्च न्यायलय में वीवीपैट पर चुनाव आयोग को मिले नोटिस पर कांग्रेस नेता आरपीएन सिंह ने कहा कि यदि एक प्रतिशत लोग या एक व्यक्ति को भी चुनाव या चुनाव प्रक्रिया पर कोई शंका होती है तो चुनाव आयोग का कर्तव्य बनता है कि वो उस शंका को दूर करे। साथ ही चुनाव आयोग जनता को यह विश्वास दिलाए कि सही और निष्पक्ष तरीके से चुनाव हो रहा है।


Browse By Tags



अन्य बड़ी ख़बरें इन्ही विषयों पर..