आप के कॉल सेंटरों पर पुलिस कार्रवाई के खिलाफ पार्टी सांसद और विधायकों का पुलिस थाने में धरना
| Agency - 14 Mar 2019

नई दिल्ली,  दिल्ली की मतदाता सूची से मतदाताओं के नाम काटे जाने की सूचना लोगों को फोन करके देने वाले आप के कॉल सेंटरों के खिलाफ पुलिस कार्रवाई के विरोध में पार्टी के सांसद और विधायक बुधवार को पुलिस थाने में धरने पर बैठ गये। आप के राज्यसभा सदस्य संजय सिंह की अगुवाई में पार्टी के तमाम विधायकों ने मतदाताओं की मदद कर रहे कॉल सेंटर संचालकों का पुलिस द्वारा उत्पीड़न करने का आरोप लगाते हुये सनलाइट कालोनी पुलिस थाने में धरना दिया। उल्लेखनीय है कि आप ने हाल ही में मतदाता सूची से लाखों मतदाताओं के नाम काटे जाने का मामला चुनाव आयोग के समक्ष उठाते हुये कुछ कॉल सेंटर की मदद से दिल्ली के मतदाताओं को फोन कर उनके नाम मतदाता सूची में जुड़वाने की पेशकश की थी। आयोग ने इससे जुड़ी शिकायत पर संज्ञान लेते हुये दिल्ली पुलिस से मतदाताओं को फोन कॉल कर गलत जानकारी देने और भ्रमित करने का मामला दर्ज कर इसकी जांच करने का निर्देश दिया था। सिंह ने बुधवार को चुनाव आयोग को पत्र लिखकर इस मामले में पुलिस कार्रवाई को राजनीति से प्रेरित बताया। उन्होंने आरोप लगाया कि पुलिस भाजपा के इशारे पर आप नेताओं और कॉल सेंटर संचालकों को जांच के नाम पर परेशान कर रही है। उन्होंने ट्वीट कर कहा, दिल्ली पुलिस का दमन चक्र जारी है। चुनाव आयोग को पत्र लिखकर पुलिस अधिकारियों पर कार्यवाही की मांग की, मैं इस वक्त सन लाइट थाने में बैठा हूँ, अपनी व साथियों की गिरफ्तारी देने के लिए। इस पर आप संयोजक और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने ट्विटर के माध्यम से आप नेताओं और विधायकों को पुलिस थाने पहुंचने का आह्वान किया। उन्होंने कहा सभी विधायक और सभी साथी थाने पहुँचे। केजरीवाल के आह्वान पर पार्टी के नेता राघव चड्ढा और आतिशी, आप विधायक प्रकाश जारवाल, सहीराम और प्रवीण सहित अन्य विधायक पुलिस थाने पहुंच गये। सिंह ने चुनाव आयोग से इस मामले में संज्ञान लेते हुये पुलिस की विद्वेषपूर्ण कार्रवाई को रोकने की मांग की।
 


Browse By Tags



अन्य बड़ी ख़बरें इन्ही विषयों पर..