पूर्वी दिल्ली में घरेलू उद्योगों में कामगारों व बिजली खपत की सीमा बढ़ाकर हुई 9 व 11 किलोवाट
| Agency - 09 Mar 2019

नई दिल्ली,  पूर्वी दिल्ली के महापौर, बिपिन बिहारी सिंह ने बताया कि पूर्वी दिल्ली के रिहायशी व गांव आबादी क्षेत्र में घरेलू उद्योग से संबंधित व्यापारियों को बड़ी राहत दी गई है। उन्होंने बताया कि भारत सरकार की अधिसूचना के अनुरुप अब घरेलू उघोग में एक समय में 9 कामगार कार्य कर सकेंगे तथा 11 किलोवाट तक बिजली की खपत की सीमा निर्धारित की गई है। इसके साथ ही अब व्यापारी अपने घर के 50 प्रतिशत हिस्से पर उद्योग शुरू कर सकेंगे। बता दें कि इससे पहले घरेलू उद्योग में कार्य हेतु 5 कामगार एवं 5 किलोवाट तक बिजली खपत की सीमा निर्धारित थी। 

महापौर बिपिन बिहारी सिंह ने बताया कि केन्द्रीय शहरी विकास एवं आवास मंत्रालय, भारत सरकार द्वारा घरेलू व्यापार को बढ़ावा देने के उद्देशय से व्यापारियों को बड़ी राहत दी है। उन्होंने कहा कि पूर्वी दिल्ली क्षेत्र में बड़ी संख्या में घरेलू उद्योग चल रहें हैं जो इस योजना से निश्चित रुप से लाभांवित होंगे साथ ही इससे बड़ी संख्या में रोजगार भी उपलब्ध होंगे। महापौर ने जानकारी देते हुए बताया कि केन्द्र सरकार ने दिल्ली मास्टर प्लान 2021 में संशोधन किया है इसके अन्तर्गत औद्योगिक इकाइयों को रिहायशी इलाकों में तभी मंजूरी दी जायेगी जब वे श्रम एवं उद्योग विभाग एवं दिल्ली प्रदूषण नियंत्रण समिति से एनओसी प्राप्त करेंगे। इसमें अगरबत्ती, इलेक्ट्रानिक सामान, सिलाई मशीन, बिस्कुट, मोमबत्ती, मिठाई, खादी, हथकरघा, प्लास्टर ऑफ पेरिस, लकड़ी नक्काशी आदि उद्योग शामिल हैं। 
 


Browse By Tags



अन्य बड़ी ख़बरें इन्ही विषयों पर..